किसी चमत्कार से कम नहीं हैं ये हरे-काले फल, कैंसर, मोटापे जैसी 4 बीमारियों में कारगर, इम्यूनिटी भी होगी बूस्ट

Olives Health Benefits: आयुर्वेद में कई ऐसे फलों का जिक्र है, जिनका सेवन सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है. ऐसे ही फल हैं ऑलिव या जैतून. भारत में बेशक इस फल का सेवन कम ही किया जाता हो, लेकिन ये सेहत को अनगिनत फायदे पहुंचाता है. बता दें कि, वर्तमान में ऑलिव ऑयल की तरह इसके फल की भी डिमांड बढ़ी है. इन हरे-काले फलों का प्रयोग पिज्जा, सलाद और सैंडविच जैसी चीजों में बड़े पैमाने पर किया जा रहा है. ये फल खाने में तो टेस्टी होते ही हैं, साथ ही सेहत को भी हेल्दी रखते हैं. ये हरे-काले फल कैंसर से लेकर मोटापे तक में कारगर माने जाते हैं. आइए बलरामपुर चिकित्सालय लखनऊ के आयुर्वेदाचार्य डॉ. जितेंद्र शर्मा से जानते हैं इसके स्वास्थ्य लाभ.

01

इम्यूनिटी बूस्ट करे: हरे-काले फल ऑलिव एंटी-ऑक्सीडेंट्स का अच्छा स्रोत माने जाते हैं. साथ ही ये फल फ्री-रैडिकल डैमेज से सुरक्षा करता है. एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर ऑलिव के सेवन से स्किन हेल्दी हेल्दी रहती है. साथ ही एंटी-एजिंग इफेक्ट्स की मदद से स्किन को लम्बे समय तक जवां और चमकदार रखते हैं.  (Image- Canva)

02

मोटापा कम करे: बढ़ते वजन को कम करने में ऑलिव के हरे-काले फल बेहद असरदार माने जाते हैं. बता दें कि. इन फलों का सेवन करने से मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा मिलता है और वेट लॉस भी होता है. (Image- Canva)

03

हार्ट को रखे हेल्दी: ऑलिव का सेवन करने से हार्ट से संबंधित बीमारियों का जोखिम कम होता है. बता दें कि, ऑलिव ऑयल में हेल्दी फैट्स पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने में मददगार माने जाते हैं. (Image- Canva)

04

ब्रेन के लिए लाभकारी: ये तो हम सभी जानते हैं कि ऑलिव का सेवन करने से डाइजेशन बेहतर होता है. लेकिन ये फल ब्रेन के लिए भी बहुत चमत्कारी होते हैं. इनका नियमित सेवन करने से तनाव कम होता है और अच्छा फील कराने में मदद करते हैं. (Image- Canva)

05

कैंसर से बचाव करे: जैतून का तेल आंत में होने वाले कैंसर से बचाव करने में असरदार माना जाता है. इसके अलावा जैतून के तेल में कैल्शि‍यम की काफी मात्रा पाई जाती है, इसलिए भोजन में इसका उपयोग या अन्य तरीकों से इसे आहार में लेने से ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याओं से निजात मिलती है. (Image- Canva)

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!