N फॉर न्यू इंडिया, D फॉर…PM ने बताए NDA के मायने; कहा-हम जोड़ते हैं, वो देश को तोड़ते हैं

New Dehli : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मंगलवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की बैठक से ठीक पहले कहा कि केंद्र का सत्ताधारी गठबंधन समय की कसौटी पर खरा उतरा है जो राष्ट्रीय प्रगति को आगे बढ़ाना चाहता है और क्षेत्रीय आकांक्षाओं को पूरा करना चाहता है.एनडीए की बैठक में पहुंचने पर पीएम नरेंद्र मोदी का सभी दलों के नेताओं ने भव्‍य स्‍वागत किया. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा के मुताबिक राजग की बैठक में 38 दलों ने शामिल होने की पुष्टि की है.

मैंने लाल किले से कहा था कि यही समय है, सही समय है. मुझसे गलती हो सकती है, लेकिन बदनीयत नहीं. मैं आपको भरोसा दिलाता हूं; आपने मेरा जीवन देखा है. मेरे शरीर का कण-कण और जीवन का पल-पल देश को समर्पित है. मुझे आप लोगों से विश्वास मिलता है. NDA के तीसरे काल में भारत की इकॉनामी दुनिया में तीसरे नम्बर पर होगी.

भारत में जनमत किसके पास, ये बात तो अब दुनिया जानती है

पीएम मोदी ने कहा कि लोग केरल से लेकर बंगाल तक सब देख रहे है. एक वो हैं जो देश को तोड़ते हैं… हम देश को जोड़ते हैं. उनका गठबंधन नूराकुश्ती है या मजबूरी की दोस्ती है. विपक्ष की पार्टियां पास-पास आ सकती है लेकिन वे कभी भी एक साथ नहीं हो सकतीं. विपक्ष के कार्यकर्ता भी भ्रमित हैं. ये पार्टियां अपने कार्यकर्ताओं का ख्याल नहीं रखते है. देश मन बना चुका है तीसरी बार NDA को ही चुनना है. देश ही नहीं विदेश भी मन बना चुका है. दुनिया जानती है कि भारत में जनमत किसके पास है.

विपक्ष देश के लोगों को कम आंक रहा है

पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष ने गाली देने की आदत बना ली है. विपक्ष ने नीचा दिखाने की कोशिश की है. विपक्ष देश के लोगों को कम आंक रहा है. हम देश को जोड़ते हैं. हमने NDA से लोगों को सशक्त बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. परिणामस्वरूप, नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार 2015-16 के बाद लगभग 13.5 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला गया. विश्व बैंक की एक रिपोर्ट के अनुसार, लगभग 40 करोड़ लोगों ने बहुत कम समय में गरीबी को हरा दिया. आईएमएफ के अनुसार, भारत से अत्यधिक गरीबी ख़त्म होने की कगार पर है.

NDA का मतलब है N= न्यू इंडिया, D= डेवलपमेंट, A= एस्पिरेशन

पीएम मोदी ने कहा कि NDA का मतलब है एन यानी न्‍यू इंडिया, डी यानी डेवलपमेंट और ए यानी एस्पिरेशन. NDA के 25 वर्षों की इस यात्रा के साथ एक और संयोग जुड़ा है. ये वह समय है, जब हमारा देश आने वाले 25 वर्षों में एक बड़े लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कदम बढ़ा रहा है. ये लक्ष्य विकसित भारत का है, आत्मनिर्भर भारत का है.पीएम मोदी ने कहा कि NDA क्षेत्रीय आकांशाओं का इंद्रधनुष है. NDA की विचारधारा है नेशन फर्स्ट…  प्रोग्रेस फर्स्ट. NDA के सभी साथी जमीन से जुड़े लोग है. एक गरीब को घर मिलने पर सुरक्षा कवच मिलता है, पंख मिलते हैं; सिर्फ छत नहीं मिलती. NDA सरकार ने वोट बैंक की राजनीति को विकासवाद की राजनीति में बदला है. हमारे देश में राजनीतिक गठबंधनों की एक लंबी परंपरा रही है, लेकिन जो भी गठबंधन Negativity के साथ बने वह कभी भी सफल नहीं हो पाए. कांग्रेस ने 90 के दशक में देश में अस्थिरता लाने के लिए गठबंधनों का इस्तेमाल किया। कांग्रेस ने सरकारें बनाईं और सरकारें बिगाड़ीं.

एनडीए में गरीबों के बीच काम करने वाले नेता

पीएम मोदी ने कहा कि एनडीए में गरीबों के बीच काम करने वाले नेता है. यहां गरीबों की सुनवाई होती है. पीएम मोदी ने कहा कि हमने विपक्ष में रहकर सरकारों का विरोध किया लेकिन कभी जनादेश का अनादर नहीं किया और विदेश से मदद नहीं मांगी. कोई भी योजना केंद्र की हो तो ये लोग राज्य में लागू नहीं होने देते और मुझे कई बार विपक्ष के मुख्यमंत्री को चिट्टी लिखनी पड़ी है. उन्‍होंने कहा कि जो गठबंधन सत्ता के लिए हो या परिवार के लिए हो लेकिन कभी सफल नहीं हुआ. 10 साल तक एक गठबंधन चला था लेकिन लाखों करोड़ों के घोटाले, प्रधानमंत्री से ऊपर आलाकमान और किसी भी को फैसले लेने में वे अपने सहयोगियों को ऊपर डाल देते थे.

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!